Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Bookmark
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Search News

News Posts by amishkumar~

Page#    Showing 1 to 5 of 1694 news entries  next>>
  
Today (08:49) सहरसा-गढबरूआरी के बीच चल सकती है ट्रेन (m.jagran.com)
New Facilities/Technology
ECR/East Central
0 Followers
1861 views

News Entry# 374155  Blog Entry# 4199153   
  Past Edits
Jan 17 2019 (08:49)
Station Tag: Saharsa Junction/SHC added by amishkumar~/1702584
Stations:  Saharsa Junction/SHC  
सहरसा। पूर्व मध्य रेल सहरसा-गढबरूआरी के बीच आमान परिवर्तन का काम अंतिम चरण में चल रहा है। सहरसा-गढबरूआरी के बीच सीआरएस निरीक्षण के बाद ही ट्रेन परिचालन शुरू होने की उम्मीद है। सहरसा से गढ़बरूआरी 16 किमी. के बीच रेल पटरी बिछाया जा चुका है। वहीं रेल पटरी पर ब्लास्ट गिरा दिया गया है। इसी माह में सीआरएस के आगमन की संभावना बनी हुई है। सीआरएस निरीक्षण के बाद ही इस रेल खंड में रेल परिचालन शुरू होने की संभावना को लेकर युद्ध स्तर पर निर्माण कार्य चल रहा है। सहरसा यार्ड का विस्तार के निर्माण कार्य में भी तेजी लायी जा रही है। रेल निर्माण विभाग के देखरेख में बन रहे इस आमान परिवर्तन कार्य युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है। सहरसा से गढबरूआरी के बीच प्लेटफार्म निर्माण के अलावा जगह-जगह रेलवे ढाला पर बैरियर सहित अन्य सुरक्षात्मक कार्य पूरा कर लिया गया है। सीआरएस जनवरी माह के अंतिम...
more...
सप्ताह में सहरसा आने की संभावना है। पूर्व मध्य रेल के बनमनखी- बिहारीगंज के बीच आमान परिवर्तन कार्य पूरा कर लिया गया है। सीआरएस इस रेल खंड का भी निरीक्षण करेंगे। जिससे समय रहते इस रेल खंड में रेल परिचालन शुरू किया जा सकें। इसके अलावा सहरसा यार्ड का भी निरीक्षण की संभावना है। जिससे तत्काल यार्ड को चालू किया जा सकें। जिससे ट्रेनों की आवाजाही में रेल लाइन की समस्या दूर हो सकें।
--------------------------
इंटरलॉकिग का काम है अधूरा
सहरसा से गढबरूआरी के बीच आमान परिवर्तन कार्य के दौरान अबतक इंटरला¨कग का काम शुरू नहीं किया गया है। जिससे ¨सग्नल सिस्टम सहित अन्य कई तकनीकी कार्य अधूरे पड़े हुए हैं। रेल अधिकारियों की मानें तो 18 जनवरी या इसके बाद ही इंटरलॉकिग का काम शुरू किया जाएगा। जिससे समय रहते रेल अपनी समस्या को दूर सकें। इंटरला¨कग शुरू करने से पहले रेल को सहरसा रेल खंड में ब्लाक लेना पड़ेगा। इस अवधि में सहरसा- पूर्णिया एवं सहरसा-मानसी रेल खंड के बीच रेल परिचालन में विलंब की संभावना बढ़ेगी।
---------------------
25 दिसंबर 16 से बंद है रेल परिचालन
सहरसा से थरबिटिया स्टेशन के बीच 25 दिसंबर 2016 से ही रेल सेवा ठप है। इससे पहले फारबिसगंज एवं ललितग्राम के बीच रेल सेवा बाधित थी। आमान परिवर्तन कार्य को ही लेकर ललितग्राम से राघोपुर और इसके बाद राधोपुर से थरबिटिया तक रेल सेवा बंद कर दिया गया। अंत में थरबिटिया से सहरसा के बीच रेल सेवा पूर्णत: बंद कर दी गयी। इसके बाद से अब तक निर्माण कार्य चल ही रहा है।
------------------------
सीआरएस निरीक्षण के बाद ही होगा परिचालन शुरू
सीआरएस निरीक्षण से पहले इंटरलॉकिग का काम इसी माह में शुरू करवाया जाएगा। इसके बाद सीआरएस निरीक्षण होगा। सीआरएस निरीक्षण के बाद सहरसा से गढबरूआरी के बीच रेल परिचालन शुरू किया जाएगा।
आरके जैन, डीआरएम, पूर्व मध्य रेल

  
Rail News
766 views
Today (12:40)
Indianrailwayindian~   185 blog posts   4 correct pred (67% accurate)
Re# 4199153-1            Tags   Past Edits
Saharsa Yaad Ka adhura kaam bacha huaa hain
  
Jan 15 (23:54) यात्रीगण कृपया ध्यान दें.... अब एमएसटी पर फरक्का और बाढ़ तक कर सकते हैं सफर (m.jagran.com)
New Facilities/Technology
ER/Eastern
0 Followers
2483 views

News Entry# 374069  Blog Entry# 4198030   
  Past Edits
Jan 15 2019 (23:55)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by amishkumar~/1702584

Jan 15 2019 (23:55)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by amishkumar~/1702584

Jan 15 2019 (23:55)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by amishkumar~/1702584
भागलपुर [जेएनएन]। दैनिक और त्रिमासिक पास पर सफर करने वाले पैसेंजर्स को रेलवे ने नए साल में एक और तोहफा दिया है। अभी तक भागलपुर से 130 से 150 किमी के दायरे तक ही एमएसटी (मासिक सर्विस टिकट) मिलते थे। पर, अब इसका दायरा बढ़ाकर 160 किमी कर दिया गया है। पैसेंजर भागलपुर से फरक्का, बाढ़, वाया किउल जमुई, नवादा, वासुदेवपुर तक सफर कर सकते हैं। रेलवे की ओर से इसका नोटिफिकेशन जारी कर दी गई है। यह सुविधा तीन से चार दिनों में मिलने लगेगी।
पांच से छह हजार रोजाना करते हैं सफर
...
more...
अभी भागलपुर से रोजाना एमएसटी लेकर पांच से छह हजार लोग सफर करते हैं। इसमे व्यापारी, निजी, सरकारी नौकरी व पढ़ाई करने के वाले हैं। हर माह नियमित यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए सीजन या मासिक पास बनवाकर यात्रा का अधिकार करने का नियम है। भागलपुर शहर सहित कहलगांव, साहिबगंज, जमालपुर, मुंगेर बरियारपुर, किऊल, मोकामा स्थान से बड़ी संख्या में यात्री रोजाना निजी व सरकारी नौकरी के लिए मासिक पास बनवाकर यात्रा करते है।
दो शिफ्ट में बनता था, मेल और सुपरफास्ट में लागू नहीं
अब तक भागलपुर से 130 से 150 किलोमीटर तक है पास निर्यात होते थे इससे ज्यादा किलोमीटर का सफर करने पर दो शिफ्ट में पास बनता है। किमी का दायरा बढ़ने से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। रेलवे पास मेल और सुपरफास्ट में मान्य नहीं है। पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेन में ही सफर कर सकते हैं।
  
Jan 14 (10:31) बेरमो : धनबाद-चंद्रपुरा लाइन पर एचपीसीसी से रिपोर्ट मांगी (www.prabhatkhabar.com)
Politics
ECR/East Central
0 Followers
1666 views

News Entry# 373919  Blog Entry# 4196379   
  Past Edits
Jan 14 2019 (10:32)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by amishkumar~/1702584
Stations:  Dhanbad Junction/DHN  
दिल्ली में केंद्रीय श्रम मंत्री की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय बैठकअग्नि प्रभावित क्षेत्र की अद्यतन स्थिति के बारे में एक सप्ताह में सौंपनी होगी रिपोर्ट बेरमो/बाघमारा : बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेल खंड पर ट्रेनों के पुन: परिचालन पर विचार के लिए केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने डीजीएमएस, बीसीसीएल, सिंफर और रेलवे के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक में गिरिडीह के सांसद रवींद्र कुमार पांडेय भी मौजूद थे. इस दौरान लगभग डेढ़ वर्ष से बंद ट्रेन सेवा व बाद के हालात पर विचार-विमर्श हुआ. श्रम मंत्री ने अधिकारियों से डीसी रेल लाइन के अग्नि प्रभावित हिस्से की अद्यतन स्थिति के बारे में पूछा. उन्होंने समीक्षा रिपोर्ट में विलंब पर गहरी नाराजगी जतायी.  सभी विभागों के उच्चाधिकारियों को निर्देश दिया कि वे एक सप्ताह के अंदर सकारात्मक सोच के साथ अग्नि प्रभावित क्षेत्र की ताजा हालत पर रिपोर्ट दें, ताकि रेलवे अग्रेत्तर कार्रवाई कर सके. रिपोर्ट हाइपावर सेंट्रल कमेटी (एचपीसीसी) सौंपेगी, जिसमें रेलवे, डीजीएमएस,...
more...
सिंफर व बीसीसीएल के अधिकारी होंगे. बैठक में श्रम विभाग के संयुक्त सचिव, डीजीएमएस के निदेशक, सिंफर के निदेशक, बीसीसीएल और रेलवे के उच्चाधिकारी उपस्थित थे. भूमिगत आग के आकलन को डीजीएमएस दक्ष नहीं :  सांसद रवींद्र कुमार पांडेय ने बीसीसीएल एवं डीजीएमएस के अधिकारियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि डीजीएमएस की दक्षता भूमिगत आग का आकलन करने की नहीं है.  लंबे समय से लगातार आश्वासन के बावजूद बीसीसीएल ने अद्यतन स्थिति की समीक्षा के लिए विशेषज्ञ सिंफर को आज तक अधिकृत नहीं किया. इससे स्पष्ट है कि बीसीसीएल की मंशा आग बुझाने की नहीं, केवल लाइन के नीचे से कोयला खनन करना है. यही वजह है कि स्थल भ्रमण के क्रम में कोयला सचिव को रेल लाइन के आसपास आग लगा हुआ कोयला गिरा कर दिग्भ्रमित किया गया. सच्चाई यह है कि लगभग डेढ़ वर्ष में अग्नि का प्रभाव स्वतः काफी घटा है.  ..तो ट्रायल रन में दोनों मंत्री होंगे साथ : श्रम मंत्री के सवालों पर विभागीय उच्चाधिकारी एक-दूसरे पर जवाबदेही थोपते नजर आये. इस पर संतोष गंगवार ने यहां तक कह दिया कि अगर वास्तव में लाइन की सुरक्षा को लेकर डीजीएमएस और रेलवे के अधिकारी भयभीत हैं, तो वे ट्रेन का ट्रायल रन तय करें, सांसद के साथ स्वयं मंत्री भी ट्रेन की यात्रा करेंगे.  11 जनवरी को लगभग दो घंटे तक चली मैराथन बैठक में अंततः तय किया गया कि एक सप्ताह के अंदर एचपीसीसी, जिसके प्रतिवेदन के आलोक में डीसी लाइन बंद की गयी थी, उसके द्वारा सकारात्मक दृष्टि से अद्यतन स्थिति की समीक्षा कर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जायेगा. प्रतिवेदन पर रेलवे तुरंत फैसला लेगी.
  
Jan 14 (06:52) 1.15 करोड़ से बना सेकेंड इंट्री भवन एप्रोच पथ की ढलाई संपन्न (m.jagran.com)
New Facilities/Technology
ECR/East Central
0 Followers
1953 views

News Entry# 373911  Blog Entry# 4196252   
  Past Edits
Jan 14 2019 (06:53)
Station Tag: Khagaria Junction/KGG added by amishkumar~/1702584
Stations:  Khagaria Junction/KGG  
खगड़िया। खगड़िया स्टेशन पर एक करोड़ 15 लाख की लागत से बन रहे सेकेंड इंट्री एप्रोच पथ का ढलाई कार्य पूरा हो गया है। जिससे जिले के उत्तरी हिस्से के हजारों लोगों को ट्रेन से आसान सफर का सपना निकट भविष्य में सच होता नजर आ रहा है। चीफ आइओडब्लू चंदन कुमार ने बताया कि सेकेंड इंट्री भवन एप्रोच पथ बनने से रेल यात्रियों को प्लेटफार्म नंबर- दो एवं एक तक पहुंचने का रास्ता साफ हो गया है। चंदन कुमार ने बताया कि सेकेंड इंट्री एप्रोच पथ, फुट ओवर ब्रिज के शेड एवं टाइल्स का निर्माण कार्य अगले एक माह में पूरा कर लिया जाएगा एवं आगामी 20 फरवरी को सेकेंड इंट्री एप्रोच पथ को आमलोगों के आवागमन के लिए रेलवे को समर्पित कर दिया जाएगा। मालूम हो कि खगड़िया स्टेशन का टिकट काउंटर दक्षिणी हिस्से में है। जबकि जिला मुख्यालय की बड़ी आबादी रेलवे लाइन के उत्तरी हिस्से में है।...
more...
आजादी के बाद से ही लोगों की मांग थी कि रेलवे लाइन के उत्तरी भाग में टिकट काटने की व्यवस्था हो। ताकि लोगों का लाइन पार करने अथवा ढाला होकर डेढ़ किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय कर टिकट कटाने की मशक्कत से मुक्ति मिल सके। जिले के लोगों की मांग के आलोक में तीन वर्ष पूर्व सेकेंड इंट्री भवन का निर्माण कार्य शुरु हुआ। जो पिछले वर्ष बनकर तैयार हो गया। सेकेंड इंट्री एप्रोच पथ नहीं रहने के कारण करोड़ों से बना सेकेंड इंट्री भवन बेकार पड़ा हुआ है। सेकेंड इंट्री भवन एप्रोच पथ का निर्माण कार्य पिछले एक वर्ष से कच्छप गति से चल रहा था। जिससे आमलोग काफी निराश थे।
  
Jan 11 (15:26) कटिहार में शुरू हुई लाइव स्ट्रीमिंग बेस रसोई (m.jagran.com)
New Facilities/Technology
NFR/Northeast Frontier
0 Followers
2639 views

News Entry# 373705  Blog Entry# 4193900   
  Past Edits
Jan 11 2019 (15:26)
Station Tag: Katihar Junction/KIR added by amishkumar~/1702584
Stations:  Katihar Junction/KIR  
किशनगंज (सागर चंद्रा)। रेल में सफर करने वाले यात्रियों के लिए भोजन और उसकी गुणवत्ता सबसे बड़ी समस्या होती है। समय-समय पर खाने की गुणवत्ता और कीमत को लेकर यात्री सवाल उठाते रहते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए रेलवे और आइआरसीटीसी ने लाइव स्ट्री¨मग रसोई की शुरुआत की है। गुरुवार को कटिहार रेलवे स्टेशन से नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे ने इसकी शुरुआत कर दी।
पूरे सप्ताह 24 घंटे चलने वाली इस रसोई की लाइव स्ट्री¨मग के जरिये यात्री यह देख सकेंगे कि उन्हें दिया जाने वाला खाना कैसे तैयार और पैक किया जा रहा है। आइआरसीटीसी के पोर्टल के माध्यम से बेस किचेन के प्रदर्शन की ऑनलाइन मॉनिट¨रग की जा सकती है। रेल मंत्री पियूष गोयल ने हाल
...
more...
में ही एनएफ रेलवे के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान लाइव स्ट्री¨मग को लागू करने का निर्देश दिया था। आइआरसीटीसी की वेबसाइट के गैलरी सेक्शन में इन वीडियोज के ¨लक शेयर किए जाएंगे। वोबॉट कंपनी द्वारा विकसित इस प्रणाली से बेस किचन में होने वाली गड़बड़ी और समस्या को फौरन आइआरसीटीसी के पोर्टल के माध्यम से ईमेल भेज कर अधिकारियों को सतर्क कर दिया जाएगा। वर्तमान में कटिहार स्टेशन से राजधानी सहित अन्य ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को खाना उपलब्ध कराया जाता है। एनएफ रेलवे के कटिहार सहित एनजेपी, न्यू कूचबिहार, गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ में बेस किचन उपलब्ध है।
--------
एयर लाइन कैट¨रग में भी लाइव स्ट्रीमिंग की सुविधा उपलब्ध नहीं है। इस व्यवस्था से भोजन की गुणवत्ता में पारदर्शिता आएगी। जनता का विश्वास बढ़ाने में यह मील का पत्थर साबित होगी। जल्द ही एनएफ रेलवे के सभी बेस किचेन में लाइव स्ट्री¨मग की सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी।
- प्रणव ज्योति सिन्हा
सीपीआरओ, एनएफ रेलवे

  
2175 views
Jan 11 (16:27)
©The Dark Lord™~   9512 blog posts   2 correct pred (67% accurate)
Re# 4193900-1            Tags   Past Edits
Stream it on YouTube like other cookery channels. Intro would be like, "Namaskar Dosto aaj hum Sandaas k Paani se Khanna banana sikhenge"...To chaliye shuru karte hai😆
Page#    1694 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy